गुरुवार, 24 दिसंबर 2015

पंथ की बाधा बनोगे क्या मोम के बंधन

Edit Posted by with No comments

पंथ की बाधा बनेगे क्या मोम के बन्धन




पंथ की बाधा बनेगे क्या
मोम के बन्धन
सजीले भूल जाओगे क्या
देख तितलियों के पर रंगीले
विश्व का क्रंदन डुबो देगी
मधुप की मधुर गुनगुन डूब जाओगे क्या
देख फुल दल ओस गीले देख
अपनी छांह को मत
अपने लिये कारा बनाना
जाग तुझको दूर जाना ---------------
रोचक

0 टिप्पणियाँ: