बुधवार, 13 जनवरी 2016

मुखौटा लगाया पहरेदार का ।

Edit Posted by with No comments
मुखौटा लगाया पहरेदार का,
सबका भरोसा जित कर ,
लूट गया विश्वास ,
भरोसा करने वालो के चेहरे स्याहं हो गए ,
जिंदगी बनाने का दावा करने वालो पर नही करना भरोसा ,
बेईमान चढ़े है हर शिखर पर ,ईमानदार अब तबाह हो गये ।
रोचक

0 टिप्पणियाँ: